Close

Review Meeting of Commissioner Kumaon Division

Publish Date : 21/04/2018
Review Meeting of Kumaon Commissioner
नैनीताल 20 अप्रैल 2018 (सूचना)-       
1- मण्डलायुक्त राजीव रौतेला ने मण्डलीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करते हुये कहा कि राज्य सरकार व भारत सरकार के सार्वेच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं में अभी से गति लाकर कार्य पूरे किये जायें। उन्होंने कहा कि मण्डल व प्रदेश को आगे बढ़ाने हेतु अभिनव प्रयासों की जरूरत है। अधिकारी अपनी कार्य संस्कृति में बदलाव लाते हुये कार्य योजना बनाकर नई उर्जा के साथ कार्य करें व योजनाओं का लाभ जनता तक पहुॅचायें।
मण्डलायुक्त श्री रौतेला ने 20 सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा करते हुये कहा कि मण्डल में जो विभाग 20 सूत्रीय कार्यक्रम में बी श्रेणी में आये हैं वे कारण स्पष्ट करें तथा जो विभाग डी व सी श्रेणी में आये हैं उन्हें कारण बताओं नोटिस देने के निर्देश उप निदेशक अर्थ एवं संख्या को दिये। उन्होंने निदेशक समाज कल्याण के बैठक में अनुपस्थित रहने पर नाराजगी व्यक्त की साथ ही निर्देश दिये कि सक्षम अधिकारी ही मण्डलीय बैठकों में अनिवार्य रूप से प्रतिभाग करेंगे, अनुपस्थित रहने पर कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे विभागीय योजनाओं की सक्सेज स्टोरी उप निदेशक सूचना को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये, ताकि उनका प्रचार प्रसार कर प्रेेरित किया जा सके। उन्होंने कृषि, उद्यान विभाग की समीक्षा करते हुये प्रगतिशील किसानों की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश देतेे हुये कहा कि मई माह में प्रगतिशील किसानों की कार्यशाला आयोजित की जाय ताकि उनके महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त कर जनपद के अन्य किसानों के साथ साझां किया जा सके। उन्होंने कृषि, उद्यान अन्य संबंधित विभागों को निर्देश दिये कि वे पहाड़ी क्षेत्रों के कृषकों को आगे बढ़ाने हेतु कार्ययोजना बनायें ताकि दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों की आर्थिकी मजबूत की जा सके। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार व राज्य सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करने का लक्ष्य रखा है इसलिये कृषि, उद्यान, पशुपालन, सिंचाई,मत्स्य आदि संबंधित विभाग समन्वय स्थापित करते हुये योजनाओं के कार्यो को संपादित करें ताकि समयावधि में कृषकों की आय दुगुनी हो सके। 
आयुक्त ने कहा कि सभी अधिकारी/कर्मचारी अपने तैनाती स्थल पर रहना सुनिश्चित करेंगे तथा समय पर कार्यालय में उपस्थित होंगे ।  जिला स्तरीय,  ब्लाक स्तरीय व ग्राम स्तरीय अधिकारी जनता व जनप्रतिनिधियों से मुखातिब रहें व शालीनता से समस्यायें सुनते हुये उनका समाधान करेंगे। मुख्यालय से अनुपस्थित पाये जाने पर अधिकारियों/कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। 
श्री रौतेला ने कहा कि समाज के कमजोर वर्गो का उत्थान करना सरकार की प्राथमिकता है। सरकार अनुसूचित जातियों,जनजातियों, अन्य पिछड़े वर्गो, वृद्धजनों, महिलाओं एवं समाज के सभी दबे हुये और कमजोर वर्गो के कल्याण एवं उत्थान के लिये वचनबद्ध है। समाज कल्याण विभाग के पेंशन व छात्रवृत्ति योजनाओं की विस्तृत जानकारी लेते हुये पात्र लोगों को योजनाओं का लाभ पहुॅचाने के निर्देश दिये। मण्डल में अक्षय उर्जा के कार्यो की समीक्षा करते हुये अविद्युतीकृत तोकों को अक्षय उर्जा से संतृप्त करने के साथ ही विन्डमिल लगाने हेतु सर्वे करने के निर्देश परियोजना प्रबंधक अक्षय उर्जा को दिये। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तीकरण एवं बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिये सर्वे कर ग्राम सभाओं की भूमि पर महिला चेतना उपवन का प्रस्ताव भी बनाने के निर्देश दिये। उन्होने सड़क महकमे की समीक्षा करते हुये कहा कि सड़कें पर्वतीय क्षेत्रों की जीवन रेखा हैं। पर्यटन सीजन व चारधाम यात्रा प्रारम्भ हो रही है साथ ही मानूसन भी आने वाला है ऐसे में सड़क मार्ग आवागमन हेतु खुले रहें इसके लिये समुचित व्यवस्थायें सुनिश्चित कर ली जायें। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने में साइनेज अतिमहत्वपूर्ण होते हैं जो साइनेज सड़क महकमों द्वारा लगाये गये हैं वे नाकाफी हैं इसलिये लोक निर्माण, राष्ट्रीय राजमार्ग, पीएमजीएसवाई अपने-अपने सड़कों पर नये साइनेज हिन्दी व अंग्रेजी दोनों में लगायें ताकि स्थानीय लोगों व पर्यटकों को अनावश्यक परेशानियों का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि मण्डल की सड़कों के मोड़ों अथवा दोनों ओर जगह हो तो उन्हें चैड़ीकरण कार्य किया जाय साथ ही सड़कों के दोनों ओर सौन्दर्यीकरण किया जाय ताकि पर्यटकों को सुन्दरता की अनुभूति हो और उन्हंे लगे कि वे उत्तराखण्ड में हैं। उन्होंने कहा कि मण्डल की सड़कों में वाहनों का दबाव काफी ज्यादा है इसलिये सड़कों में ओवरटेकिंग जोन बनाये जायें साथ ही उन स्थानों पर साइनेज भी लगाये जायें। 
बैठक में अपर आयुक्त संजय कुमार खेतवाल, वन संरक्षक डा0तेजस्वनी पाटिल धकाते, मुख्य अभियंता एनएच डीएस नबियाल, अपर निदेशक पशुपालन डा0 पीसी कान्डपाल,संयुक्त निदेशक कृषि पीके सिंह,उप निदेशक डेरी विकास संजय उपाध्याय, उप निदेशक रेशम अरविन्द ललोरिया,उप निदेशक अर्थ एवं संख्या राजेन्द्र तिवारी, संयुक्त निदेशक उद्यान डा0 अजय कुमार यादव,उप निदेशक मत्स्य आरपी टम्टा,सहायक निदेशक समाज कल्याण एनके शर्मा,क्षेत्रीय प्रबंधक वनविकास निगम डा0जीसी पंत आदि उपस्थित थे।
———————————
2- उप निदेशक अर्थ एवं संख्या राजेन्द्र तिवारी ने बताया कि 21 अप्रैल (शनिवार) को होने वाली मण्डलीय समीक्षा बैठक की प्रथमपाली के विभागों की बैठक प्रातः 11 बजे से जिला विकास प्राधिकरण सभागार में होगी तथा द्वितीय पाली जिसमें जलनिगम, जलसंस्थान, पावर कारपोरेशन व पिटकुल की बैठक अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दी गयी है जो अब 24 अप्रैल (मंगलवार) को होगी।